Speech on Mother in Hindi language-and in English

Speech on Mother in Hindi language

यहां उपस्थित सभी लोगों को सुप्रभात। आज मैं यहां “माई मदर” पर भाषण देने आया हूं।

हमारे आस-पास के लोगों के साथ हमारे कई रिश्ते हैं लेकिन प्यार, देखभाल और स्नेह का सबसे शुद्ध बंधन माँ के साथ के रिश्ते को इतना पवित्र बना देता है।

रुडयार्ड किपलिंग ने ठीक ही कहा है, “ईश्वर हर जगह नहीं हो सकता, और इसलिए उसने माताएँ बनाईं”।

speech on mother in hindi

एक माँ हमें न केवल जन्म देती है बल्कि हमारा पालन-पोषण भी करती है, संस्कार और अच्छा व्यवहार सिखाती है।

जन्म से ही बच्चा हमेशा माँ के साथ रहता है इसलिए बच्चा माँ के साथ एक अनोखा भावनात्मक बंधन साझा करता है।

बच्चे को जन्म देते समय उसे बहुत दर्द होता है लेकिन वह अपने बच्चे के लिए सारा दर्द सहती है। सचमुच वह देवी हैं।

वह जीवन के हर मोड़ पर अपने बच्चे की रक्षा करती है चाहे बच्चा छोटा हो या बड़ा। माँ का प्यार पवित्र और अतुलनीय है।

शिक्षक के रूप में माँ

मां बच्चे की पहली शिक्षिका होती है। सबसे पहले, वह अपने बच्चे को बोलना सिखाती है। बच्चा भी पहले “माँ” शब्द बोलता है।

वह हमें बुनियादी शिष्टाचार सिखाती है। वह हमें खिलाती है, हमारी परवाह करती है और हमें बेहतर इंसान बनाती है।

हमारी माँ हमें प्यार, देखभाल, समझ, मदद, ईमानदारी, सहानुभूति आदि गुण भी सिखाती है। हमारी माँ हमें जीवन के विभिन्न पाठ सिखाती है।

एक दोस्त के रूप में माँ

एक माँ बच्चे की पहली सबसे अच्छी दोस्त होती है। जब कोई बच्चा स्कूल जाना शुरू करता है तो वह स्कूल में हुई हर बात अपनी मां को बताता है।

जरूरत के समय उनका कंधा हमेशा साथ रहता है। दोस्तों की तरह ही वह हमारी समस्याओं को शांति से सुनती है और हमें किसी भी गलत काम से रोकती है।

निष्कर्ष

अंत में मैं बस इतना ही कहना चाहता हूं कि मां हर किसी के जीवन में एक बहुत ही महत्वपूर्ण और अपूरणीय भूमिका निभाती है।

सभी को उनका आभारी होना चाहिए।

धन्यवाद

Speech on Mother in English language

Good Morning to one and all present over here. Today I am here to deliver a speech on My Mother.

We have many relationships with people around us but the purest bond of love, care, and affection makes the relation with mother so sacred.

Rudyard Kipling rightly said, “God cannot be everywhere, and therefore he made mothers”.

A mother not only gives us birth but also upbring us, teaches us manners, and good behavior.

Since birth, a child always remains with the mother therefore the child shares a unique emotional bond with the mother.

She bears a lot of pain while delivering a baby but she bears all the pain for her child. Truly she is an angel.

She safeguards her child at every point of life whether the child is a kid or a grown-up man. The love of a mother is pure and incomparable.

Mother as Teacher

Mother is a child’s first teacher. Firstly, she teaches her child to speak. The child also speaks the word “Maa” first.

She teaches us basic manners and etiquette. She feeds us, cares for us, and makes us better human beings.

Our mother also teaches us the qualities like love, care, understanding, helpfulness, honesty, empathy, etc. Our mother teaches us various life lessons to us.

Mother as a Friend

A mother is a child’s first best friend. When a child starts going to school, he tells every single thing that happened in the school to his mother.

Her shoulder is always there in times of need. Just like friends she listens to our problems calmly and prevents us from any wrongdoing.

Conclusion

At last, I just want to say that mother plays a very important and irreplaceable part in everyone’s life.

Everyone should be thankful to her.

Thank You

Leave a Comment